राज्य

रेंजर निलंबित एसडीओ को थमाया गया नोटिस

सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों उदासीनता

वन अधिकारियों को लापरवाही के चलते सो-काज नोटिस

बाकल वन परिक्षेत्र रेंजर निलंबित, एसडीओ को नोटिस

सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों पर बरती गयी उदासीनता

कटनी – {sarokaar news} प्रदेश सरकार लगातार प्रशासनिक कसावट के साथ काम कर रही है तथा अपने कर्तव्यों के प्रति लापरवाह अधिकारी कर्मचारियों पर लगातार कार्रवाई कर सन्देश देने का काम कर रही है कि लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रत्येक माह होने वाले जन अधिकार कार्यक्रम की वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान 12 आवेदनों की समस्याओं के निराकरण के संबंध में की गई कार्यवाही की जानकारी संबंधित जिलों के कलेक्टर से ली। कटनी जिले में संबंधित शिकायत वन क्षेत्र बाकल में मजदूरी भुगतान के विलंब पर सीएम हेल्पलाईन की शिकायत में वन क्षेत्र बाकल के रेंजर को निलंबित कर दिया गया है। जबकि वन एसडीओ को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये हैं। कलेक्ट्रेट कटनी स्थित वीडियो कांफ्रेंसिंग रुम में कलेक्टर शशिभूषण सिंह, एसपी ललित शाक्यवार, सीईओ जिला पंचायत जगदीश प्रसाद गोेमे, वन मण्डलाधिकारी ए0के0 राय, आयुक्त नगर निगम आर0पी0 सिंह सहित विभाग प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कटनी, जबलपुर, सतना, भोपाल, नरसिंहपुर, रतलाम, छिंदवाड़ा, उज्जैन, भिंड, होशंगाबाद, दतिया, टीकमगढ़ जिले के 12 आवेदकों की समस्याओं के निराकरण संबंधी जानकारी सम्बंधित जिलों के कलेक्टरों से ली। कटनी जिले से संबंधित बहोरीबंद विकासखण्ड के वन परिक्षेत्र बाकल में वन कार्य की मजदूरी का भुगतान 3 मजदूरों को विलंब से होने की शिकायत में कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने बताया कि वन विभाग से संबंधित बहोरीबंद के परिक्षेत्र में वन कार्य में 46 मजदूरों ने सितम्बर 2018 में वन कार्य मजदूरी की थी। जिसमें 43 मजदूरों को 18 फरवरी 2019 को 5 माह बाद ऑनलाईन भुगतान किया गया। कुल 46 मजदूरों में से 3 मजदूर गीता बाई, सम्पत बाई और राजा बाई का भुगतान बैंक खाता क्रमांक गलत होने से नहीं हो सका। इन तीन मजदूरों को मजदूरी भुगतान नकद रुप से किया गया।

इस आशय की शिकायत एक्टिविस्ट राजेश भास्कर द्वारा सीएम हेल्पलाईन में दर्ज कराई गई थी। मामले की जांच के दौरान यह तथ्य पाये गये कि तत्कालीन रेंजर जी0एन0 शुक्ला द्वारा देयक समय पर प्रस्तुत नहीं करने से भुगतान में विलम्ब हुआ है और सीएम हेल्पलाईन में शिकायत आने पर एल-1 स्तर के अधिकारी रेंजर श्री शुक्ला ने गंभीरता नहीं बरती तथा एसडीओ वन आर0एल0 शर्मा ने भी एल-2 स्तर पर निराकरण के लिये तत्परता नहीं बरती। इस लापरवाही पर रेंजर को निलंबित करने और एसडीओ को कारण बताओ नोटिस जारी करने का प्रस्ताव भेजा गया है। अतिरिक्त मुख्य सचिव वन ने मुख्यमंत्री को बताया कि दोनों के विरुद्ध प्रस्तावित कार्यवाही कर दी गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close