सतना

 जवाहर नवोदय रहिकवारा के छात्र उतरे सड़क पर

                  जवाहर नवोदय विद्यालय रहिकवारा में समस्यायों का अंबार
                  आवासीय विद्यालय के छात्र-छात्राएं मूलभूत सुविधायों से वंचित
                                        जाँच में बच्चों की शिकायतें सही पाई गयीं
सतना- सतना जिले के रहिकवारा में स्थित जवाहर नवोदय स्कूल के बच्चों ने सोमवार को सड़क पर उतारकर विरोध प्रदर्शन करते हुये बताया कि उन्हें स्कूल में बेहद घटिया खाना दिया जा रहा है तथा पर्याप्त मात्रा में पानी भी उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है। आक्रोशित छात्र छात्राएं सुबह सुबह सड़क पर उतरकर स्कूल के प्राचार्य को हटाने की मांग को लेकर चक्का जाम कर दिया। सूचना मिलने पर सतना एसडीएम ए पी दिवेदी और थाना प्रभारी दलबल के साथ मौके पर पहुंचे तो देखा कि बच्चे स्कूल प्रबंधन से खासे नाराज हैं तथा उनके द्वारा बताया गया की कई दिनों से स्कूल में घटिया चावलों को फ्राई करके खिलाया जा रहा है एसडीएम की समझाइस जाम खुलवाया गया। जवाहर नवोदय स्कूल के बच्चों ने स्कूल की प्राचार्य मंजू चौधरी पर गंभीर आरोप लगाए और उन्हें हटाने की मांग की बच्चों का कहना है कि स्कूल में खाने की क्वालिटी बहुत खराब है तथा पिछले 2 दिनों से भरपेट खाना नहीं मिला है। बच्चों को सड़क पर देख आस पास के ग्रामीण भी एकत्रित हो गए तथा बच्चों के समर्थन में खड़े हो गए।

सतना एसडीएम एपी दिवेदी प्राचार्य को समझाईस देते

छात्र छात्राओं के आरोप के बाद स्कूल की जांच दौरान स्कूल के स्टोर की जांच की तो वहां दो तरह की खाद्य सामग्री पाई गई एक चावल अच्छी क्वालिटी का जो स्कूल के स्टाफ के खाने के लिए है तथा गन्दा और अमानक स्तर का चावल बच्चों के खाने में उपयोग किया जाता है यह भी सामने आया कि खाद्यान्न को कमीशन खोरी के चक्कर में एक साल का इकठ्ठा ले लिया जाता है तथा देखरेख के अभाव में ख़राब होता रहता है। इसके अलावा अन्य शिकायतें भी सही पाई गई जिस पर एसडीएम एपी दिवेदी द्वारा प्रतिवेदन बनाकर भेजा गया है। कमरे में 48 छात्र है और महज एक पंखा चालू हालत में है इसके अलावा नहाने के लिए पर्याप्त पानी की कमी सहित मूलभूत सुबिधाओं की भरी कमी देखने को मिली। वही छात्राओं ने गंभीर आरोपी लगाते हुए बताया की उनके टॉयलेट में पुरुष स्वीपर मनमाने तरीके से प्रवेश करते हैं तथा मना करने के बाद भी प्रवेश करते हैं इससे कई बार असहजता की स्तिथि का सामना करना पड़ता है हम लोग इसकी शिकायत लिखित रूप से कर चुके हैं लेकिन स्कूल प्रबंधन द्वारा हमारी शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया गया
वहीँ जवाहर नवोदय विद्यालय की प्राचार्य मंजू चौधरी ने सफाई देते हुए कहा कि टेंडर में कुछ दिक्कतें हुई हैं जिससे यह स्थिति उत्पन्न हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close