पन्नाराजनीति

पन्ना कलेक्टर मनोज खत्री पर कांग्रेसियों का हमला

जिले के वरिष्ठ कांग्रेसियों ने कलेक्टर मनोज खत्री पर बोला हमला

पन्ना कलेक्टर को हटाए जाने की मांग पकड़ रही जोर

जिला निर्वाचन अधिकारी भाजपा के लिए कर रहे काम : भाष्कर देव बुन्देला

भाजपा माइंडेड है श्री खत्री इनके द्वारा कांग्रेसियों को खूब सताया गया : डॉ घनश्याम शर्मा

एनएमडीसी द्वारा उपलब्ध कराया गया सीएसआर फंड के 20 लाख रूपए संगठन विशेष को देना इनकी मानसिकता को प्रदर्शित करता है : लोकेन्द्र सिंह

चुनाव के दौरान स्वीप गतिविधियों के लिए आवंटित बजट खर्च ना कर संबंधित अधिकारियों से कार्य कराया जा रहा है सरकार द्वारा आवंटित बजट कहां गया इसकी जांच होनी चाहिए : पवन जैन

पन्ना – {sarokaar news} जिले के वरिष्ठ कांग्रेसियों ने आज साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कलेक्टर मनोज खत्री जिला निर्वाचन अधिकारी पर जमकर निशाना साधा। कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठजनों भास्करदेव बुंदेला पूर्व जिलाध्यक्ष पन्ना, डॉ घनश्याम शर्मा, पूर्व जिलाध्यक्ष पन्ना, लोकेन्द्र सिंह,पूर्व सांसद पूर्व विधायक पन्ना, पूर्व विधानसभा प्रत्याशी राजू जैन, वरिष्ठ कांग्रेस नेता राम कुमार मिश्रा तथा प्रदेश कांग्रेस महामंत्री अल्पसंख्यक विभाग पवन जैन, दिनेश शर्मा इत्यादि लोगों ने प्रेस कांफ्रेंस करते हुए कलेक्टर की कार्यप्रणाली पर सावल उठाये और मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को शिकायती पत्र भेजा।

कांग्रेस पार्टी के प्रति गहरी निष्ठा रखने वाले वरिष्ठ कांग्रेसजनों को लगता है कि पार्टी 15 साल बाद प्रदेश में सत्ता में आयी है और कोई अधिकारी सरकार होते हुए विपक्षी दल के प्रति आस्था प्रकट करे, यह बात वरिष्ठ कांग्रेसियों को बहुत नागवार गुजरी और उन्होंने कलेक्टर मनोज खत्री के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए आरोपों की झड़ी लगा दी। सभी कांग्रेसियों ने इस बात पर अपनी सहमति जताई कि कलेक्टर मनोज खत्री के रहते निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव हो पाना संभव नहीं है। इसके लिए चुनाव आयोग को पत्र लिखा गया है जिसमे उन्हें हटाने की मांग करने सहित यह उल्लेख किया गया है कि भारत सरकार के उपक्रम एनएमडीसी लिमिटेड द्वारा संचालित हीरा खनन परियोजना द्वारा कंपनी एक्ट के तहत दिए जाने वाले सीएसआर फंड को कलेक्टर की अध्यक्षता वाली सीएसआर कमेटी द्वारा नियम विरुद्ध भारतीय जनता पार्टी के मातृ संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से सम्बद्ध सुदर्शन बनवासी छात्रावास इंद्रपुरी कॉलोनी पन्ना को कलेक्टर मनोज खत्री की अनुशंसा पर लगभग 20 लाख रूपए प्रदान किए गए। मध्यप्रदेश की पूर्व भाजपा सरकार के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जाहिर करने एवं भाजपा को खुश करने के मकसद से या अनुचित एवं नियम विरुद्ध कार्य किया गया, मनोज खत्री का यह कार्य कदाचार व राजनीतिक दल के प्रभाव को प्रदर्शित करता है। जिससे उनका निर्वाचन अधिकारी के रूप में निष्पक्ष चुनाव करा पाना संभव नहीं है।

पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष पन्ना, घनश्याम शर्मा पत्रकार वार्ता करते हुए

पन्ना जिले के भाजपा जिला अध्यक्ष सदानंद गौतम बीजेपी की सरकार में पन्ना कलेक्टर श्री मनोज खत्री को स्थानीय स्तर राजनीतिक संरक्षण प्रदान करते रहे इसके एवज में भाजपा जिलाध्यक्ष के भाई रामबाबू गौतम को रेत की अवैध खनन की खुली छूट दे रहे रामबाबू गौतम के द्वारा प्रशासनिक संरक्षण में उक्त अवैध उत्खनन परिवहन करने की ख़बरें अति रहीं हैं। तत्कालीन जिला आपूर्ति अधिकारी बीएस परिहार ने तो भाजपा जिला अध्यक्ष एवं कलेक्टर मनोज खत्री के संबंधों को लेकर तत्कालीन मुख्य सचिव से लिखित शिकायत की थी जिसमें श्री खत्री पर अधिकारियों को उपेक्षित करने और राजनैतिक दल के घोषित एजेंट के रूप में उनकी कार्यशैली को लेकर कई गंभीर आरोप लगाए गए थे। विगत दिनों हुए मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में पन्ना विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार की जीत हासिल हुई थी मनोज खत्री की भूमिका को लेकर क्षेत्र में जनसाधारण में यह चर्चा है कि भाजपा प्रत्याशी को लाभ पहुंचा विधानसभा निर्वाचन 2018 में पन्ना सीट से भाजपा प्रत्याशी को लाभ पहुंचाने की मंशा से घोषित मैदानी अमले पंचायत सचिव रोजगार सहायकों उचित मूल्य दुकानों के सेल्समैन आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं सहायिकाओं को गोपनीय तरीके से भाजपा का कार्य कराया गया। विधानसभा चुनाव 2018 के समय कलेक्टर श्री खत्री ने सत्ताधारी दल भाजपा के उम्मीदवार को लाभ पहुंचाने के लिए कई हथकंडे अपनाए जिससे जिला निर्वाचन अधिकारी के रूप में इनकी निष्पक्षता पर गंभीर प्रश्न चिन्ह लगा है विधानसभा चुनाव प्रचार के अंतिम दिन पन्ना विधानसभा अंतर्गत अजय गढ़ कस्बा में कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू की आमसभा होनी थी इस सभा को सफल आयोजन को अस्त-व्यस्त करने के उद्देश्य से अजयगढ़ कस्बा स्थित छोटी फील्ड पर आम सभा करने की अनुमति कॉन्ग्रेस को प्रदान नहीं की गई। विधानसभा चुनाव 2018 के सत्ताधारी दल भाजपा की रैली को सफल बनाने के लिए जिला परिवहन अधिकारी को मौखिक आदेश देकर पन्ना की 60 बसों का अधिग्रहण कर भाजपा कार्यकर्ताओं को दी गयीं।

पन्ना कलेक्टर मनोज खत्री पर अब तक का सबसे बड़ा हमला बोलते हुए वरिष्ठ कंग्रेसियों ने आयोग को भेजे गए पात्र में कहा है कि इनके रहते निष्पक्ष चुनाव हो पाना सम्भव नहीं है इसलिए इनका तुरंत स्थानांतरण कर ईमानदार और गैर राजनितिक पृष्ठ भूमि वाले अधिकारी की पदस्थापना की जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close